जगदलपुर : 7 करोड़ के नकली नोट बरामद, मामले में कई बड़े नामों का हो सकता है खुलासा

0
5552

संवाददाता आकाश मिश्रा की रिपोर्ट-

जगदलपुर | तेलंगाना राज्य के खम्मम जिले के सत्तपल्ली में मदार नामक व्यक्ति पिछले कई सालों से नकली नोट बनाने का काम कर रहा है। इस धंधे में धीरे-धीरे उसने बड़े स्तर पर अपनी पहचान बना रखी है| इसकी सीमा छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले से लगाती है ।  बताया जा रहा है कि वह 3 से लेकर 25-30 गुना तक अधिक नकली नोट असली के बदले देता था। कई बार उसकी शिकायतें भी हुई पर बड़ी पहुंच के बल पर वह साफ बच निकलता रहा। अधिक शोर शराबा होने पर इस बार पुलिस ने उस पर हाथ डाला। लेकिन इस बार भी 5 करोड़ के नकली नोट मदार ने जो मकान किराए से ले रखा है वहां से बरामद किए गए हैं और 2 लाख मदार के बगल वाले घर से मिला है| इस बारे में मकान मालिक श्रीनिवास रेड्डी का कहना है कि उसे इस बारे में कुछ मालूम नही था, जब पुलिस रेड करने पहुंची तब इस बात का पता चला| बता दे कि सत्तपल्ली खम्मम जिले का सब डिवीजन है। यहां यह आम चर्चा है कि मदार के खुद के घर और आसपास के घरों में और भी नकली नोट रखे हो सकते हैं।

इस दौरान खम्मम पुलिस कमिश्नर ने मदार के घर के आसपास सीसीटीवी कैमरे, पुलिस बल और खोजी कुत्तों की तैनाती कर रखी है। इस इलाके को पुलिस ने एक तरह से सील कर दिया है और किसी को भी जाने की इजाजत नहीं है।
मदार इस काम के लिए ओड़िसा से मजदूर लाता था यह कह कर की उसके पोल्ट्री फार्म में मजदूरों की जरूरत है। बाद में उन्हें इस काम में लगा देता था। उसी के मजदूर रामबाबू का कहना है कि उसे वाहन में डिब्बे लादकर किसी ठिकाने पहुंचाने कहा गया। डिब्बे लादते समय उसे उसमें दो-दो हजार के नोट दिखाई दिए थे। सत्तपल्ली में मदर के आलीशान मकान को देखकर आसानी से समझा जा सकता है कि उसने इस धंधे में कितना कमाया होगा| सूत्रों के अनुसार, इस मामले में बड़े राजनेता, व्यवसायी और ब्यूरोक्रेटस के शामिल होने की चर्चा आम  है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here