संवाददाता मनोज यादव की रिपोर्ट-

जांजगीर-चांपा | शराब माफियाओं की दबंगई इतनी अधिक बढ़ गई है कि अवैध शराब बिक्री के खिलाफ कार्यवाही करने वाली महिला कमांडो को जान से मारने की धमकी देने लगे है| वही, महिला कमांडो ने आरोप लगाया है कि पुलिस शराब माफियाओं पर कार्यवाही करने के बजाय लेनदेन कर मामला रफा-दफा कर देती है|

दरअसल, सक्ति थाना क्षेत्र के ग्राम परसदा में पुलिस द्वारा नशाबंदी अभियान के तहत ग्राम परसदा की महिलाओ को चयन कर गांव में महिला कमाण्डो का गठन किया गया है| महिला कमाण्डो के गठन होते ही गांव की महिलाओं ने गांव में हो रही अवैध शराब बिक्री और शराब माफियाओं के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है| परसदा की महिला कमाण्डो अवैध शराब पकड़कर सक्ति पुलिस को दे देती हैं, लेकिन सक्ति थाना की पुलिस टीम शराब माफियाओं के खिलाफ कार्यवाही करने के बजाये उनसे पैसा लेकर उन्हें छोड़ देती है| अब पुलिस के चंगुल से छुटने के बाद शराब माफियाओं में संलिप्त लोग महिला कमांडो को गाली-गलौच करते हुए जान से मारने कि धमकी दे रहे हैं, जिससे परेशान महिला कमाण्डो ने मामले की शिकायत जांजगीर कलेक्टर और एसपी से की है, महिलाओं का कहना है कि हम गांव सुधर जाए, यह सोचकर इस मुहीम में पुलिस का साथ दे रहे हैं, लेकिन पुलिस विभाग के अधिकारी कार्यवाही करने के बजाए पैसा लेनदेन कर माफियाओं को छोड़ दे रहे हैं, अगर जल्द ही मामले कि उचित कार्यवाही नहीं होगी तो महिलाए भूख हड़ताल करेंगी|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here