संवाददाता विजय सोनी की रिपोर्ट-

पवनी | आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की मनमानी थमने का नाम नही ले रही है, 2013-14 में बनी आंगन बाड़ी भवन खाली पड़ा है| वही लोक सुराज अभियान में आंगनबाड़ी संचालिका के खिलाफ पंच व वार्डवासियों द्वारा शिकायत भी की गई लेकिन उसके कान में जू तक नही रेंगा, उल्टा वह ग्रामीणों को धमकियाँ देने लगी|

दरअसल, बिलाईगढ़ विधानसभा के पवनी ग्राम पंचायत के सिटी पारा में 4.50 लाख रुपयों की लागत से सरकार द्वारा आंगनबाड़ी का निर्माण किया गया है ताकि बच्चों को यहाँ सर्व सुविधा उपलब्ध कराई जा सकें लेकिन सुविधा बच्चों को नही बल्कि आंगनबाड़ी संचालिका पूर्णिमा साहू को चाहिए| इसलिए तो वह आंगनबाड़ी का संचालन अपने घर से कर रही है और भवन जर्जर पड़ा है| पूर्णिमा साहू की शिकायत लोक सुराज अभियान में पंच व वार्डवासियों ने की थी, वहां बताया गया था किस प्रकार संचालिका की मनमानी के कारण बच्चों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है| पूर्णिमा साहू को एक लिखित आदेश जारी कर तत्काल भवन में आंगनबाड़ी संचालन के लिए कहा गया लेकिन उसने ऐसा नही किया और अब भी अपने मकान में ही संचालन कर रही है| यदि ग्रामीण उसे कुछ कहते है तो वह नौकरी से इस्तीफा देने की धमकी देने लगती है|

मामले में विधायक चंद्रदेव राय ने कहा कि यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं था और आप लोगों के माध्य्म से जानकारी मिली हैं, आज ही इस मामले में जिला के उच्चाधिकारियों से बात की जाएगी और दोषी पाए जाने पर कार्यवाही जरूर की जाएगी|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here