Live India24x7

Search
Close this search box.

मासूम बालिका से दरिंदगी दिखाने वाले को 20 साल की कैद घटना के 56 दिन के अंदर आरोपी को मिली सजा

लाइव इंडिया ब्यूरो संजय कुमार गौतम

चित्रकूट ब्यूरो:त्वरित एवं प्रभावी पैरवी के चलते विशेष न्यायधीश ने मासूम बालिका से दुराचार की घटना के 56 दिन के अंदर निर्णय सुनाया है। आरोप पत्र दाखिल होने के 27 दिन बाद ही दोष सिद्ध होने पर आरोपी को 20 वर्ष कठोर कारावास और 10 हजार रु अर्थदंड की सजा सुनाई है विशेष लोक अभियोजक तेज प्रताप सिंह ने बताया कि बीती 4 दिसम्बर 2023 को राजापुर थाने में एक महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। शिकायतकर्ता के अनुसार रात 9:30 बजे खटवारा गांव के आजाद पुरवा निवासी सोनू रैदास उसकी 7 वर्षीय बेटी को घर के सामने से उठा ले गया और अरहर के खेत में उसके साथ बुरा काम किया। रक्तरंजित अवस्था में बालिका रोते हुए घर पंहुची और परिवार वालों को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने के बाद पीड़ित बालिका का चिकित्सीय परीक्षण कराकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था। जिसके बाद से आरोपी अब तक जेल में बंद है।पुलिस ने इस मामले में 27 दिन पूर्व न्यायालय में आरोप पत्र दाखिल किया था। राजापुर क्षेत्राधिकारी निष्ठा उपाध्याय के निर्देश पर पुलिस ने समय से गवाहों को पेश कराते हुए प्रभावी पैरवी की थी। बचाव और अभियोजन पक्ष के अधिवक्ताओं की दलीलें सुनने के बाद विशेष न्यायधीश विनीत नारायण पाण्डेय ने सोमवार को निर्णय सुनाया। जिसमें दोषसिद्ध होने पर आरोपी सोनू रैदास को 20 वर्ष कठोर कारावास और 10 हजार अर्थदंड की सजा सुनाई गई।

liveindia24x7
Author: liveindia24x7