Live India24x7

Search
Close this search box.

धवारी चौराहे में मंदिर प्रांगण में शुद्ध देसी घी से निर्मित महा प्रसाद खिचड़ी वितरित जरूरत मंदो ने किए प्रेम पूर्वक किया ग्रहण

अरुण गर्ग चीफ ब्यूरो लाइव इंडिया सतना

धवारी चौराहे में प्रत्येक मंगलवार और शनिवार को महाप्रसाद के रूप में खिचड़ी का प्रसाद वितरित किया जाता है और जरूरतमंदों को इसका लाभ अधिक से अधिक मिल सके इस बात का विशेष ध्यान दिया जाता है उसे क्षेत्र में ग्रामीण अंचल के लोगो का जायदा आना जाना लगा रहता है ऑटो और बस स्टैंड होने के कारण और क्षेत्रीय दुकान दार और ग्राहकों का आवागमन बना रहता है हमेशा की तरह महाप्रसाद का वितरण शाम 6:00 बजे से शुरू होकर 7:00 बजे तक यह कार्य किया जाता है यह खिचड़ी का पूरा कार्यक्रम लाइंस क्लब के हेल्पिंग हाथ के द्वारा किया जाता है जिसके अन्य साथियों द्वारा इस महाप्रसाद का वितरण किया जाता है इसमें शिक्षक आलोक त्रिपाठी 

शिक्षक जितेंद्र गर्ग संतोष सक्सेना अशोक त्रिपाठी राजेश श्रीवास्तव मिथिलेश पांडे कमलकांत पांडे विनोद पांडे जगदीश प्रसाद गुप्ता सुकृति त्रिपाठी सूर्य कमल विनय कमल शुभम सिंह एवं मंदिर के प्रधान पुजारी जगन्नाथ महाराज एवं अन्य साथी इसमें बड़ चढ़ कर

हिस्सा लेते हैं इस पुनीत कार्य के पीछे सभी साथियों का मुख्य उद्देश्य सेवा भाव है मुख्य रूप से आलोक त्रिपाठी की और अन्य साथी की बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका रहती है आलोक त्रिपाठी से बात करने के बाद उन्होंने यह बताया यह कार्य निरंतर दो वर्षों से हम सब लोग साथी मिलकर लगातार करते आ रहे हैं किसी भी बिना निजी स्वार्थ के यह महाप्रसाद का वितरण किया जाता है इस पुनीत कार्य में सतना के नगर वासियों का भी इसमें भरपूर सहयोग समय-समय पर प्राप्त होता रहता है जैसे किसी के घर में जन्मदिन वैवाहिक वर्षगांठ और अन्य मांगलिक कार्यक्रमों में के समय-समय पर अपना सहयोग योगदान देते रहते हैं आलोक त्रिपाठी अपने पर्यावरण प्रेम के प्रश्नों के बारे में बताया कि मैं लगभग 6 वर्षों से लगातार लगभग 1500 वृक्ष लगा चुका हूं और सभी वृष आज अपनी जीवित अवस्था में है शिक्षक आलोक त्रिपाठी जी ने यह बताया की सबको किसी न किसी रूप में सेवा भाव रखनी चाहिए आलोक त्रिपाठी जी का सेवानिवृत्ति 2026 में होने वाले हैं उन्होंने यह बताया कि 2026 के बाद मेरा यह संकल्प है यह मेरा सेवा रूपी कार्य चाहे मानव सेवा हो या पर्यावरण सेवा हो या अन्य किसी प्रकार की जरूरतमंदों को लाभ पहुंचाना हो वह मेरा अनवरत जारी रहेगा

स्वयं को सेवा भाव को सेवा से कार्य करें जिससे कि आने वाली पीढ़ी सुरक्षित एवं सुगम संस्कारित हो सके ।

liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज