Live India24x7

Search
Close this search box.

मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होगी टीएमसी, ममता बनर्जी ने कहा- अलोकतांत्रित तरीके से बन रही सरकार, शुभकामनाएं नहीं दे सकती…

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को नवनिर्वाचित सांसदों से मुलाकात के बाद कहा कि तृणमूल कांग्रेस रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होगी.

ममता बनर्जी ने कहा, “हमें अभी तक निमंत्रण नहीं मिला है. अगर हम ऐसा करते भी हैं तो हम समारोह में शामिल नहीं होंगे. बनर्जी ने कहा, “यह सरकार अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक तरीके से बन रही है. हम इस सरकार को अपनी शुभकामनाएं नहीं दे सकते. हम देश और देश के लोगों को अपनी शुभकामनाएं देते हैं.
ममता बनर्जी ने बैठक के बाद घोषणा की कि उनकी पार्टी ने सांसद सुदीप बंदोपाध्याय को लोकसभा में नेता नियुक्त किया है, जबकि डॉ काकोली घोष दस्तीदार उपनेता की भूमिका निभाएंगे. कल्याण बनर्जी को लोकसभा में मुख्य सचेतक नामित किया गया है.
राज्यसभा में टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन को पार्टी का नेता चुना गया है. सागरिका घोष उप नेता के रूप में उनका समर्थन करेंगे और नदीमुल हक राज्यसभा के मुख्य सचेतक होंगे. इन नियुक्तियों का उद्देश्य टीएमसी की संसदीय उपस्थिति को मजबूत करना और दोनों सदनों के भीतर नेतृत्व की भूमिका को सुव्यवस्थित करना है.
उन्होंने कहा, ‘आज इंडिया (गुट) ने दावा नहीं किया लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वे भविष्य में दावा नहीं करेंगे. देश को बदलाव की जरूरत है. मोदी को कोई नहीं चाहता. इस परिणाम के बाद उन्हें (मोदी) पद छोड़ देना चाहिए था. मुझे नहीं पता कि वे अपने गठबंधन सहयोगियों को कितना संतुष्ट कर सकते हैं.
ममता बनर्जी ने कहा कि भारत में, कोई देने और लेने की सुविधा नहीं है. लेकिन एनडीए में टीम मेंबर्स की उम्मीदें ज्यादा हैं. इंडिया ब्लॉक पार्टनर समर्पित और दृढ़ निश्चयी हैं. मुझे लगता है कि यह सरकार लंबे समय तक नहीं चलेगी.
उन्होंने यह भी दावा किया कि लोकसभा चुनावों में उनकी पार्टी पश्चिम बंगाल में 35 सीटें जीत सकती थी. उन्होंने कहा, “ईसीआई (भारत निर्वाचन आयोग) और सीएपीएफ (केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल) ने संयुक्त रूप से पांच-छह सीटों पर हमें हराया. अन्यथा, हम 29 सीटों के बजाय 35 सीटें जीतते.
उन्होंने कहा कि जब संसद में कामकाज शुरू होगा तो उनकी पार्टी के सदस्य हाथ से नहीं बैठेंगे. उन्होंने कहा, ‘हमारे सांसद संसद में खाली बैठने नहीं जा रहे हैं. वे एनआरसी और सीएए को रोकने के लिए मुखर होंगे.
ममता बनर्जी ने यह भी कहा कि तृणमूल कांग्रेस की चार सदस्यीय टीम- डेरेक ओ ब्रायन, सागरिका घोष, डोला सेन और नदीमुल हक किसानों के आंदोलन के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए पंजाब जाएगी.
May be an image of 1 person, banner, microphone, dais and text
See insights and ads
Boost post
Like

Comment
Share
liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज