Live India24x7

Search
Close this search box.

नजीराबाद हत्याकांड का सीसी टीवी फुटेज से हुआ खुलासा

 

अरुण गर्ग चीफ ब्यूरो लाइव इंडिया

सतना
दिनांक 10.07.2024 को पुलिस थाना कोतवाली जिला सतना को रेल्वे प्रशासन की ओर से सूचना मिली कि, किसी अज्ञात व्यक्ति का शव कटी हालात मे मृत अवस्था मे घटनास्थल 1174/09 (रेल्वे पोल के पास ) तिघरा रेल्वे लाईन मे पङा हुआ है जो सूचना पर थाना कोतवाली मे मर्ग क्रं. 55/24 धारा 194 बीएनएसएस के तहत पंजीबद्ध कर जांच प्रारंभ की गई, जांच के दौरान घटनास्थल का निरीक्षण किया व पहचान की गई जो कि मृतक की शिनाख्त राकेश चौधरी पिता गंगा प्रसाद चौधरी उम्र 32 साल नि. ग्राम तिघरा लौहरौरा थाना कोतवाली का होना पाया, जांच मे यह पता चला कि, मृतक तिघरा का रहने वाला था जो कल ही दिनांक 09.07.2024 को परिवार सहित मकान मालिक राजेश प्रजापित के घर नजीराबाद मे रह रहा था, मृतक के रहने वाले स्थान की तस्दीक की गई तो यह जानकारी प्राप्त हुई कि, घटनास्थल राजेश प्रजापति का मकान हरदेव बाबा के पास नजीराबाद मे एक महिला मृतिका संगीता वर्मा पति राकेश चौधरी उम्र 24 साल नि. ग्राम तिघरा व उसके दो पुत्रों निखिल चौधरी उम्र 08 वर्ष व ऋषभ उम्र 06 वर्ष का शव किराये के बंद कमरे मे मिला है । जिनकी हत्या हुई है ।

घटना का खुलासा
मामला गंभीर प्रवृत्ति का पाया जाने से घटनास्थल का निरीक्षण पुलिस उपमहानिरीक्षक रीवा रेंज साकेत पाण्डेय एवं पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता द्वारा किया जाकर घटना की गंभीरता को देखते हुये तत्तकाल सीएसपी महेन्द्र चौहान, थाना प्रभारी कोतवाली व थाना प्रभारी सिविल लाइन के नेतृत्व में अलग अलग पुलिस टीम गठन कर व सायबर सेल को पतारसी हेतु निर्देशित किया।
घटनास्थल से महत्वपूर्ण साक्ष्य संकलन फारेंसिक अधिकारी महेन्द्र पटेल द्वारा किया गया एवं घटनास्थल मे डाग स्काड व फिंगरप्रिंट द्वारा भी साक्ष्य संकलन किया गया ।
जांच मे यह ज्ञात हुआ कि,मृतक राकेश चौधरी का विवाह मृतिका संगीता वर्मा के साथ करीबन 10 वर्ष पूर्व हुआ था जो शादी के बाद से तिघरा मे रह रहे थे । शादी से उनके दो पुत्र निखिल उम्र 08 वर्ष व ऋषभ उम्र 06 वर्ष थे, मृतिका संगीता वर्मा शादी शुदा होने के बाबजूद कमलेश चौधरी से मोबाईल से बातचीत करने लगी थी उन दोनो की घनिष्टता ज्यादा हो गई थी। दिनांक 15.02.24 को मृतिका संगीता वर्मा अपने पति को बिना बताये अपने प्रेमी कमलेश के साथ घर से चली गई थी, उसके उपरांत वापस आने पर अपने पति राकेश चौधरी के साथ आकर रहने लगी थी।
मृतिका अपने दोनों बच्चों को साथ लेकर पुनः कमलेश के साथ कटनी चली गई थी और उसी के साथ रह रही थी वही पर रहने के दौरान मृतिका संगीता चौधरी ने अपने लङके निखिल चौधरी का एडमीशन रघुवंश उच्चतर माध्यमिक विद्यालय , झिंझरी कटनी मे करवाया था दिनांक 29.06.2024 को स्कूल के एडमीशन फार्म मे बालक निखिल चौधरी के पिता का नाम कमलेश चौधरी लिखवाया था, जिसके उपरांत दिनांक 05.07.2024 मृतिका संगीता वर्मा पुनः वापस अपने पति के पास आ गई थी और अपने पति राकेश चौधरी के साथ रहने लगी थी और मृतक राकेश चौधरी अपनी पत्नि मृतिका संगीता के साथ आकर किराये का मकान ढूंढ रहे थे ।
दस्तयाबी के पश्चात अपने पति राकेश चौधरी के साथ ही रहने लगी थी जो मृतिका फिर भी अपने प्रेमी कमलेश से लगातार मोबाईल मे बात होती रहती थी।
मृतक राकेश चौधरी के जो कपङे घटनास्थल मे बरामद हुये है उन पर passive satellite blood pattern प्रकार के खून के धब्बे मिले है जो इस प्रकार के खून के धब्बे किसी व्यक्ति को सामने से धारदार हथियार से मारने पर आते है, इसी प्रकार के पैटर्न के खून के धब्बे घटनास्थल के कमरे मे मिले है।
साक्ष्य के लिये महत्वपूर्ण सीसीटीवी फुटेज का सूक्ष्मता से अवलोकन किया गया । जिसमें घटनास्थल वाले कमरे का आने जाने का रास्ता साफ साफ दिखाई देता है उस दरवाजे के अतिरिक्त कमरे मे आने जाने का कोई रास्ता नही है।
सीसीटीवी फुटेज मे यह साक्ष्य सामने आये कि, रात्रि 08/15 बजे मृतक राकेश चौधरी अपने परिवार पत्नि मृतिका संगीता चौधरी व दोनों बच्चों निखिल व ऋषभ के साथ अपने कमरे आय़ा है । जिसके बाद मृतिका संगीता चौधरी मोबाईल फोन पर लगातार बाते करते हुये दिख रही है । मृतक राकेश चौधरी 08/29 बजे अपने दोनो बच्चों को साथ लेकर रोड मे ठेले के पास गया है और 08/51 बजे दोनों बच्चों के साथ वापस आ गया है । मृतिका संगीता इस दौरान लगातार कमलेश चौधरी से मोबाईल फोन पर बात कर रही थी तभी उसका पति राकेश चौधरी रुष्ट होकर मृतिका को बाहर से घर के अंदर लाता हुआ भी दिखा है।
रात्रि 12/06 बजे मृतक राकेश चौधरी अपने घर से बाहर निकला है दरवाजा बाहर से बंद किया है और पीछे कुंये तरफ जाता दिखा है उसके बाद बाहर रोड तरफ होकर चला गया है।
मृतिका संगीता चौधरी के घर मे रात 12/06 बजे के बाद से सुबह तक कोई व्यक्ति नही आया है । उसका कमरा बंद ही था। जो सुबह करीबन 06/30 बजे मकान मालकिन चंदा देवी ने मृतिका संगीता चौधरी व उसको दोनों बच्चों को मृत अवस्था मे देखा है जिसके बाद सूचना दिये है।
फोरेंसिक एवं सीसीटीवी साक्ष्य से स्पष्ट है कि, मृतक राकेश चौधरी अपनी पत्नि संगीता चौधरी के इस तरह से दूसरे व्यक्ति से प्यार करने और लगातार उससे मोबाईल मे बात करने को लेकर मृतक राकेश चौधरी द्वारा ही धारदार हथियार से अपनी पत्नि संगीता चौधरी व दोनों बच्चों की हत्या कर दिया है और स्वंय भी आत्मग्लानि वश रेल्वे लाईन मे जाकर आत्महत्या कर लिया है।

कार्यवाही मे योगदान
महेन्द्र सिहं चौहान सीएसपी सतना , निरी. शंखधर व्दिवेदी , निरी. योगेन्द्र सिंह परिहार एवं टीम उनि दिलीप मिश्रा , सउनि अनिल त्रिपाठी सउनि राजेश तिवारी प्रधान आरक्षक 272 राहुल सिंह प्रधान आरक्षक 477 विकास सिंह प्रधान आरक्षक अखंड सिंह प्रधान आरक्षक आकाश द्विवेदी, निरी. विजय सिंह , उनि अजीत सिंह , सउनि दीपेश , प्रआर बीपेन्द्र मिश्रा , प्रआर. असलेन्द्र सिंह।

liveindia24x7
Author: liveindia24x7