Live India24x7

Search
Close this search box.

प्रसुता को बैलगाड़ी से स्वास्थ्य केन्द्र लाने के मामले की सीएमएचओ ने जांची वस्तुस्थिति

खरगोन — विकासखण्ड झिरन्या में प्रसुता को बैलगाड़ी से स्वास्थ्य केन्द्र लाने का मामला समाचार पत्रो में प्रकाशित हुआ था। इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एमएस सिसोदिया द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुये 14 दिसंबर 2023 को प्रा. स्वा. केन्द्र हेलापड़ावा एवं ग्राम चौपाली जाकर वस्तुस्थिति की संपूर्ण जानकारी ली गई। प्रसुता के पति द्वारा बताया गया कि उसने 108 पर कॉल किया था। परन्तु 108 से कहा गया कि वर्तमान हेलापड़ावा एवं झिरन्या क्षैत्र की 108 अन्य मरीज को लेकर गई हुई है। आधे घण्टे बाद दोबारा फोन लगाने के लिए 108 कॉल सेन्टर से कहा गया। फोन लगाये जाने पर 108 कॉल सेन्टर से भीकनगॉव 108 एम्बुलेंस भेजी जा रही है। प्रसुता महिला के पति को कहा गया जब तक प्रसुता को बैलगाड़ी के द्वार अस्पताल पहुचा दिया गया था सायं 6.00 बजे प्रसुता महिला अस्पताल पहुची उसके पश्चात् 6.30 बजे प्रसव हुआ। तब जच्चा एवं बच्चा दोनों स्वस्थ्य थे। परन्तु बच्चे का वजन सामान्य से कम था एवं महिला को हिमोग्लोबिन भी सामान्य से कम था। जिस कारण अतिरिक्त देखभाल की आवश्यकता होने से संबंधित को सामु. स्वा. केन्द्र झिरन्या रेफर किया गया। परन्तु मरीज जाने से इंकार कर रहा था। तब चिकित्सक द्वारा दूरभाष पर प्रसुता के परिजनांे को समझाया गया उसके पश्चात् प्रसुता को 108 शासकीय एम्बुलेंस से सामु. स्वा. केन्द्र झिरन्या रेफर किया गया मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा ग्राम चौपाली क्षैत्र में निरीक्षण कर वस्तुस्थिति का जायजा लिया गया। साथ ही ग्राम की आशा सुधा सैनी, सीएचओ सीमा रावत से भी जानकारी ली गई एवं भर्ती प्रसुता महिला को दिये जा रहे उपचार आदि की जानकारी लेकर चर्चा की गई। वर्तमान में प्रसुता महिला एवं बच्चा दोनों चिकित्सक की निगरानी में स्वास्थ्य लाभ ले रहे है।

liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज