Live India24x7

Search
Close this search box.

नदियां हमारी सभ्यता का प्रतीक हैं, इनका संरक्षण हम सभी का कर्तव्य है- मंत्री श्री पटेल

पंचायत तथा श्रम विभाग मंत्री श्री पटेल अमरावद स्थित रीछन नदी के उद्गम स्थल पर जनसंवाद कार्यक्रम में हुए शामिल 

रायसेन l नदियां हमारी सभ्यता का प्रतीक हैं, इनका संरक्षण का हम सभी का कर्तव्य है। जिस जल से हमारी पीढ़ियां सम्पन्न हुईं हैं, उद्गम के उस स्रोत को सुरक्षित रखना हमारा नैतिक कर्तव्य है। मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव द्वारा प्रदेश में जल स्त्रोतों के संरक्षण, नदियों को उद्गम से पुर्नजीवित करने तथा उनके अविरल प्रवाह के लिए जल गंगा संवर्धन अभियान शुरू किया गया है। सभी नागरिक, समाजसेवी संगठन, समाज इस अभियान से जुड़कर जल स्त्रोतों के पुर्नजीवन, संरक्षण में सहभागी बनें। यह विचार पंचायत एवं ग्रामीण विकास तथा श्रम विभाग मंत्री श्री प्रहलाद पटेल ने रायसेन जिले के अमरावद से निकलने वाली रीछन नदी (पलकमती) के उद्गम स्थल पर जल गंगा संवर्धन अभियान अंतर्गत आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम में नागरिकों को संबोधित करते हुए कही। कार्यक्रम के प्रारंभ में उन्होंने रीछन नदी के उद्गम स्थल पर पूजा-अर्चना की। इसके उपरांत पौधरोपण भी किया।  

मंत्री श्री पटेल ने कहा कि जल स्त्रोतों के पुर्नजीवन एवं जल संरक्षण के लिए सभी को एकजुट होकर प्रयास करना होगा। जीवन के लिए पानी जरूरी है और पानी के लिए वृक्ष जरूरी है। इसलिए सभी वृक्ष जरूर लगाएं। सभी को जल स्रोतों को संरक्षित एवं संवर्धन करने का कार्य करना चाहिए जिससे कि हमारा जीवन भी सुरक्षित रहेगा और पशु-पक्षी भी सुरक्षित रहेंगे। हम दिन-रात जिस प्रकार से प्रकृति का दोहन कर रहे हैं, यह हम सबके लिए खतरनाक है।

मंत्री श्री पटेल ने कहा कि वृक्ष और मनुष्य एक दूसरे के पूरक हैं। वृक्षों के बिना मनुष्य का जीवन संभव नहीं है। वृक्ष हमें ऑक्सीजन देते हैं। उन्होंने कहा कि जल स्त्रोतों के पास कौन से पौधे लगाए जाएं, जो जल के स्त्रोत को प्रवाहमान बनाए रख सकें, इसके लिए हमें उन पौधों की भी जानकारी होनी चाहिए। ऐसी सूची बनाकर नागरिकों तक पहुंचाएं, जिससे उन्हें पता चल सके। यह भू-जल स्तर वृद्धि में सहायक सिद्ध होगा। मंत्री श्री पटेल ने जानकारी देते हुए कहा कि जल स्रोतों के पास बहेड़ा, हर, आम, महूआ, नीम, खिन्नी, सेमर, बांस, बेल, केत आदि प्रकार के पेड़ लगाने चाहिए। उन्होंने सभी को जल स्त्रोतों के पुर्नजीवन तथा जल संरक्षण करने का संकल्प भी दिलाया। कार्यक्रम में सांची जनपद अध्यक्ष श्रीमती अर्चना पोर्ते सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, डिप्टी कलेक्टर श्री मुकेश सिंह, जनपद सीईओ श्रीमती बंदू सूर्यवंशी, भाजपा जिला अध्यक्ष श्री राकेश शर्मा भी उपस्थित रहे।

liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज