Live India24x7

Search
Close this search box.

लोकतंत्र में मत का महत्व !

धार, ब्यूरो चीफ़ सुनील कुमार विश्वकर्मा!

लोकतांत्रिक प्रणाली में मत महत्वपूर्ण होता है,क्यों की बहुत आम जन यह सोचते हैं कि हमारे एक वोट से क्या होता है तो मैं आपको बताना चाहता हूँ, की जब अटल बिहारी वाजपेयी जी देश के प्रधानमंत्री थे, तब उन्होंने एक वोट से बहुमत न मिलने के कारण अपने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफ़ा सौंप दिया था! और कहा कि सरकार बनती रहेगी, बिगड़ती रहेगी, राजनीतिक दल बनते रहेंगे और बिगड़ते रहेंगे! लेकिन लोकतंत्र और यहाँ राष्ट्र रहना चाहिए!मेरे कहने का तात्पर्य यह है कि एक एक मत महत्वपूर्ण है! आप अपने वोट के अधिकार का पूरा पूरा उपयोग करें! क्योंकि राजनीतिक दल अपनी अपनी पार्टी का पैकेज लेकर आपके पास आएंगे! जैसे अंतरराष्ट्रकम्पनियां आती है! और आपको पैकेज का कहा जाता है की आप हमारी कंपनी में नौकरी कर लीजिए ! हम आपको एक साल के लिए इतने लाख देंगे! अब यह बात योग्यताओं पर निर्भर करती है, लेकिन राजनीतिक पार्टी आप के पाँच वर्ष लेगी! इसलिए अपने एक मत की क़ीमत आप

नहीं करेंगे तो यह राजनीतिक दल आपको महत्व थोड़ी देंगे! मेरे लेख लिखने का मतलब यह है कि हमें अपने राष्ट्र धर्म का पालन करना चाहिए! और मतदान करते समय हमें विभिन्न राष्ट्रीय, क्षेत्रीय विषय के महत्व को समझना पड़ेगा!जो राजनीतिक दल पर्यावरण,स्वास्थ्य,अंतर्राष्ट्रीय, सुरक्षा, आंतरिक सुरक्षा और बाहरी सुरक्षा, शिक्षा में परिवर्तन, देश की अखंडता, संस्कृति, और स्पष्ट अंतरराष्ट्रीय नीति। नही रखताहै,क्योंकि भारत विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था,बन गया है, और बहुत जल्दी तीसरे नंबर पर आ जाएगा! ऐसे में देश को मज़बूत नेतृत्व देना जनता का काम होता है! इसमें सबसे महत्वपूर्ण अभी 18 वर्ष की आयु वर्ग के युवाओं का है! क्योंकि वे प्रथम बार वोट देंगे उन्हें गंभीरता से विचार विमर्श और विवेक के साथ वोट देना चाहिए! उनके सामने आने वाला भविष्य है!और सभी राजनीतिक दल आपको ध्यान उनकी ओर खींचेगा! लेकिन हमें जाति धर्म और क्षेत्र, आदी में नहीं बाँटना है! जब जब हमारे देश को मज़बूत नेतृत्व मिला है, तो देश ने विश्व में अपना परचम लहराया है! अब हमारे प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री, पी.वी. नरसिंहा राव, अटल बिहारी वाजपेयी जी, डॉक्टर अब्दुल कलाम, और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी, अब युवाओं को इन सारी चीज़ों को समझ के पावन पर्व में भाग लेना चाहिए! यह लेख किसी दल विशेष के पक्ष में नहीं है देश में लोकतंत्र मज़बूत हो इसलिए लिखा गया है जय हिन्द ,जय भारत!

liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज