Live India24x7

Search
Close this search box.

पितृ दोष से हैं परेशान तो गंगा दशहरा पर करें यह उपाय, शुभ संयोग का हो रहा निर्माण

हिंदू धर्म में गंगा दशहरा का महत्व बेहद खास माना जाता है. किसी भी पवित्र कार्य की शुरुआत करने से पहले गंगा स्नान या गंगाजल से छिड़काव कर उसे शुद्ध किया जाता है. गंगा दशहरा को गंगावतरण के नाम से भी जाना जाता है. माना जाता है कि इसी दिन माता गंगा भगवान शिव के जटाओं से निकलकर धरती पर अवतरित हुई थी. इस बार गंगा दशहरा 16 जून को मनाया जाएगा। इस बार का ये पर्व बेहद ही खास होने वाला है क्योंकि इस दिन बहुत से शुभ संयोग का निर्माण हो रहा है। खास बात यह है कि यह योग 100 साल बाद बन रहा है।जिस व्यक्ति पर पितरों का आशीर्वाद बना रहता है उसे जीवन में किसी तरह की समस्या का सामना नहीं करना पड़ता। वहीं, अगर पितृ नाराज हो जाएं, तो व्यक्ति को पितृ दोष का सामना करना पड़ता है। जिस कारण जीवन में कई तरह की दिक्कतें पैदा हो जाती हैं।
liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज