Live India24x7

Search
Close this search box.

मांगी नाव न केवट आना कहांही तुम्हार मर्म मैं जाना

 

अरुण गर्ग चीफ ब्यूरो लाइव इंडिया

सतना 19 जून धवारी गली नंबर 4 पंचायती श्री हनुमान मंदिर के सामने चल रही नव दिवसीय श्री राम कथा के आठवे दिवस में केवट संवाद भारत मिलाप कथा का विस्तार से वर्णन करते हुए कथा व्यास श्री सीताराम महाराज वृंदावन ने कहा कि श्रृंगी वन के राजा निषाद राज से मित्रता की उपरांत गंगा नदी पर उतरने के लिए प्रभु श्री राम ने केवट से कहा मांगी नाव न केवट आना कहांही तुम्हार मर्म मैं जाना।
भगवान श्री राम केवट को जब उतराई देने लगे तो केवट ने कहा हे प्रभु जब आप वापस आएंगे जो भी आप अनुग्रह करेंगे मैं उसे प्रसाद स्वरूप ग्रहण कर लूंगा।
केवट संवाद सुनकर श्री राम कथा में उपस्थित भक्ति दृष्टांत श्रवण करते हुए श्री राम भक्त भावुक हो गए।
कथा व्यास श्री सीताराम महाराज ने आगे कहा कि भगवान को प्राप्त करने के लिए अपने मन को निर्मल करना चाहिए मन अगर निर्मल हो जाएगा तो भगवान की कृपा होगी।

आज की कथा में प्रमुख रूप से ओम प्रकाश गुप्ता, रामेश्वर तिवारी, टी पी शुक्ला, विकास गर्ग विक्की परशुराम चौरसिया, वंदना रमेश तिवारी गुड्डू गुडिया तिवारी मनी पटना जतिन गर्ग अर्पित मिश्रा सत्तू गर्ग हरिओम तिवारी सत्यम तिवारी सक्षम तिवारी धीरू त्रिवेदी राकेश त्रिवेदी भूरा अमृतलाल त्रिवेदी रामदास त्रिवेदी अनुराग सोंधिया अनुष्का सोंधिया रूपा सोंधिया विनय शुक्ला, संत राम दुबे, विद्याभूषण त्रिपाठी, राजेंद्र प्रसाद तिवारी, रवि मिश्रा, राजेश गर्ग,, सत्येंद्र गर्ग, राजेश त्रिपाठी नीलू एवं क्षेत्र के धर्म स्वावलंबी श्रद्धालु भक्तजन उपस्थित रहे।

liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज