Live India24x7

Search
Close this search box.

बीजेपी कार्यकर्ताओं ने लोकतंत्र सेनानी सम्मान समारोह व संगोष्ठी का आयोजन किया

 

लाइव इंडिया ब्यूरो संजय कुमार गौतम

चित्रकूट: भारतीय जनता पार्टी चित्रकूट के द्वारा कांग्रेस सरकार द्वारा देश में थोपे गये लोकतंत्र की हत्या के षड़यंत्र आपातकाल दिवस 25 जून को लोकतन्त्र सेनानी सम्मान समारोह कार्यक्रम सर्किट हाउस सभागार में आयोजित किए गया।

भाजपा के पितृ पुरूष श्रद्धेय डॉ श्यामाप्रसाद मुखर्जी जी व पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के चित्रों पर पुष्पार्चन करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया ।

मुख्य अतिथि चन्द्रिका प्रसाद उपाध्याय , जिलाध्यक्ष लवकुश चतुर्वेदी, चन्द्र प्रकाश खरे, दिनेश तिवारी, पंकज अग्रवाल , आलोक पाण्डेय ने लोकतंत्र सेनानियों को अंगवस्त्र ओढ़ाकर स्मृति चिन्ह देकर लोकतंत्र सेनानानियों के संघर्षों को नमन किया।

लोकतंत्र सेनानी सम्मान समारोह व संगोष्ठी के पश्चात कार्यकर्ताओं ने काली पट्टी बांधकर सर्किट हाउस से सरदार पटेल मूर्ति चौराहे तक मौन जुलूस निकाला।

मुख्य अतिथि चन्द्रिका प्रसाद उपाध्याय ने संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा कि लोकतंत्र की हत्या ही है आपातकाल। कांग्रेस ने लोकतंत्र की हत्या करके लोकतंत्र को बंधुआ बनाने की बदनीयत से आपातकाल लगाया था। कांग्रेस ने 90 से अधिक बार चुनी हुई सरकारों को अलोकतांत्रिक तरीकों से बर्खास्त किया है। क्या यह लोकतंत्र की हत्या नही है। कांग्रेस ने लोकतंत्र की हत्या का षड़यंत्र रचा है आपातकाल लगाकर।लोकतंत्र सेनानी राम प्रकाश द्विवेदी ने कहा कि वो आपातकाल के विरोध में जब सक्रिय थे तो नवयुवक थे। कांग्रेस के उत्पीड़न, प्रताड़ना को झेलकर, मीसा कानून के तहत जेल में बंद रहकर लोकतंत्र की रक्षा के लिए अनेको लोगों ने संकल्पित प्रयास किए।लोकतंत्र सेनानी ननकू राम राजपूत ने कहा कि आपातकाल में कांग्रेस और इंदिरा गांधी व गांधी परिवार के खिलाफ कुछ भी बोलना अपराध था । आपातकाल में सरकार ने प्रेस पर पाबंदी लगा थी।लोकतंत्र रक्षक रामपाल त्रिपाठी ने कहा कि इंदिरा गांधी ने अपने अवैध निर्वाचन के निरस्त होने के कारण देश को आपातकाल के अंधेरे में झोक दिया था।

लोकतंत्र सेनानी भागीरथी ने कहा कि मैं सदा गलत के विरोध में खड़ा रहा हूं।

जिलाध्यक्ष लवकुश चतुर्वेदी ने कहा कि लोकतंत्र की रक्षा के लिए काँग्रेस के विरोध में पूरा देश खडा हो गया था।

चन्द्र प्रकाश खरे ने कहा कि कांग्रेस कभी भी लोकतंत्र में विश्वास नही करती है।

दिनेश तिवारी ने कहा कि सब कार्यकर्ताओ को जन जन को जागरूक करना होगा।

जिला महामंत्री आलोक पाण्डेय ने कहा कि कांग्रेस ने लोकतंत्र की हमेशा हत्या की है। कांग्रेस ने लोकतांत्रिक मूल्यों और व्यवस्था को नष्ट करके परिवार तंत्र स्थापित करने षड़यंत्र रचा था। आपातकाल देश के लोकतंत्र का काला अध्याय है। इस कार्यक्रम में विपुल सिंह, ब्रजेश पाण्डेय, पंकज अग्रवाल, महेन्द्र कोटार्य, रामबाबू गुप्ता, तीरथ तिवारी, अखिलेश रैकवार, प्रेमलाल बाल्मीकी, अनूप राघव, श्रद्धांशु, सच्चिदानंद गर्ग, श्रवण पटेल, सुनील गर्ग, पवन बद्री, राम प्रताप, श्रवण, भगवानदीन, शिव प्रकाश ख॔गार, सहित सभी मंडल अध्यक्ष, मंडल प्रभारी, मोर्चों के अध्यक्ष, महामंत्री, के साथ समस्त कार्यकर्ता सहभागी रहे ।

liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज