Live India24x7

Search
Close this search box.

चोरों का नहीं सुराग, अंधेरे में तीर मार रही पुलिस

लाइव इंडिया कोतमा

 चोरों को पकड़ने में कोतमा पुलिस नाकाम, बेखौफ बदमाश लगातार दे रहे घटनाओं को अंजाम 

कोतमा। लहसुई कैंप चोरी की वारदातों पर अंकुश लगाने में कोतमा पुलिस नाकाम साबित हो रही है। एक के बाद एक बड़ी वारदातों ने जहां आमजन की नींद उड़ा दी है, वहीं पुलिस अंधेरे में तीर मारकर भी खाली हाथ है। पिछले एक माह के अंदर हुई बड़ी चोरी की वारदातों का पुलिस को कोई सुराग हाथ नहीं लगा है।जिले में चोरी की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही है। पिछले एक माह के अंदर दो-तीन बड़ी वारदातों ने पुलिस की नींद उड़ा दी है। चोर एक के बाद एक वारदात को अंजाम दे रहे है। चोरों को पुलिस का खौफ नहीं है। एक माह पूर्व ही रात में शहर में बड़ी चोरी की घटना के बाद पुलिस बेडे़ में हलचल पैदा कर दी है, लेकिन वारदात के माह भर बाद भी पुलिस के हाथ खाली नजर आ रहे है।

थाना के चंद दूरी के ही है सात लाख की चोरी के आरोपी

बीस दिन पूर्व ऋषि कुमार नामदेव के घर से 07 लाख की चोरी जिसमे गहने और रुपए लेकर नौ दो ग्यारह हो गए। इस वारदात को लेकर जब मीडिया ने इंवेस्टिेगेशन किया तो सामने आया कि वारदात को अंजाम देने वाले और कोई नहीं, बल्कि इस्लाम गंज में रहने वाला कैशर अली एवम उसके परिवार वाले ही हैं। अनूपपुर से आई साइबर टीम ने भी यह पुष्टि कर दिया है कि जब चोरी हुई थी तब कैशर का मोबाइल ऋषि कुमार नामदेव के घर के लोकेशन में चालू था। चोरी को वारदात देने के पश्चात कैशर का मोबाइल लोकेशन हनुमना ट्रेस किया गया। तत्पश्चात पुलिस की टीम हनुमना पहुंची और वहां से भी खाली हाथ पुलिस को लौटना पड़ा। ऋषि नामदेव ने बताया कि 11 अक्टूबर 2023 की रात 11 से खाना पीना खा कर अपने परिवार बच्चो एवं मा सभी लोग सो गये थे आज दिनांक 12.10.2023 को सुबह 4.30 बजे मैं जगा और लाइट जलाया तो देखा कि रूम में रखी आलमारी के गेट खुले हुये थे और अंदर लाकर खुला था चाभी लगी हुई थी तब में पत्नी को जगाया और पूछा कि आलमारी क्यों खोल के रखे हो तब पत्नी संध्या नामदेव बोली की मै आलमारी को नहीं खोली हूँ और आलमारी में जाकर देखी तो आलमारी के लाकर मे रखे दो बैग नहीं थे जिसमे सोने के जेवरात – गले का मंगल सूत्र 4 नग कान का झुमका 02 सेट छोटे बड़े 03 नग अंगूठी कंगन 02 नग बेदी 01 नग, नयनी 02 नग नाक की कील 02 नग एवं चांदी के जेवरात पायल 05 जोडी बिछिया 12 नग हाथ पोस 01 नग चूड़ी 10 नग बेरा 04 नग एवं नगदी वेग मे रखा 12000 रूपये तथा वही आलमारी के बगल मे टगा मेरे पैन्ट के जेब से नगदी 5200 रूपये तथा कमरे के अंदर टेबिल मे रखा दो नग मोबाईल (1) VIVO V23 जिसमे जियो का सिम नंबर 9425839646 एवं एयरटेल की 7879622326 लगी है तथा (2) टक्को कम्पनी की मोबाईल जिसमे जियो सिम नंबर 6260759783 लगी है उपरोक जेवरातों की रसीदें बैंगो मे रखी थी तथा एक रसीद आलमारी के पास पड़ी थी जो अंगूठी की है मिली है उपरोक पुराने इस्तेमाली जेवरात एवं मोबाईल तथा नगदी कुल 17200 रूपये कोई चोर घर मे घुस कर सामान चोरी कर ले गया है कमरे के बाहर जाकर देखे तो छत मे जाने का दरवाजा खुला हुआ था।

liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज