Live India24x7

Search
Close this search box.

संविधान से मिले हैं हमें मौलिक अधिकार : एडीजे विशाल अखंड

बदनावर। अपर जिला एवं अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश विशाल अखंड , न्यायाधीश सीमा धाकड़ एवं विधिक सेवा समिति सदस्य व मानव अधिकार एक्टिविस्ट जयेश राजपुरोहित द्वारा उप जेल बदनावर का निरीक्षण कर विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इस अवसर पर उप जेल अधीक्षक मनोज कुमार मिश्रा भी उपस्थित थे। शिविर को संबोधित करते हुए एडीजे अखंड ने कहा कि कल 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाया जाता है जिस प्रकार घर को चलाने के लिए नियम होते हैं इस प्रकार देश को चलाने के लिए बनाए गए नियम ही हमारा संविधान है। संविधान ही कानून का जनक है हमें हमारे संविधान का आदर करना चाहिए एवं उसका पालन करना चाहिए। संविधान का उल्लंघन ही अपराध है संविधान से ही हमें मौलिक अधिकार प्राप्त हुए हैं जिन बंदियों के अभिभाषक नहीं है। उन्हें विधिक सहायता अंतर्गत अभिभाषक उपलब्ध करवाए जाने की योजना के बारे में बताया गया ।

शिविर में जयेश राजपुरोहित द्वारा भी संबोधित करते हुए संविधान के महत्व के बारे में बताया गया।

एडीजे महोदय द्वारा जेल निरीक्षण किया गया भोजन व्यवस्था, पानी की सुविधा, पेशी हेतू वीडियो कांफ्रेंसिंग कक्ष, मुलाकात कक्ष , बैरक आदि का निरीक्षण किया गया। बंदियों से मुलाकात पेशी आदि विभिन्न समस्याएं जान कर उनके निराकरण के बारे में बताया गया। शिविर में सभी 76 बंदी ,जेल स्टाफ एवं नाजिर शांतिलाल कलमे उपस्थित थे।

liveindia24x7
Author: liveindia24x7

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज